विदेशी मुद्रा हेजिंग रणनीति

सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी कौन सी हैं

सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी कौन सी हैं
bitcoin

सबसे सुरक्षित क्रिप्टोकरेंसी कौन सी है?

क्रिप्टो की दुनिया में कई ICO और cryptocurrencies हैं जिन्हें निवेशकों से पैसे चुराने के लिए हैक किया जा चुका है। किसी भी crypto coins में निवेश करने से पहले उस पर शोध करना जरूरी है, क्योंकि आप ऐसी crypto currencies खरीदना नहीं चाहेंगे जिसको आसानी से हैक किया जा सके और आपके पास कुछ भी ना बचे।

डिजिटल कर्रेंसियों में निवेश करने के कई अलग-अलग तरीके हैं, लेकिन सबसे महत्वपूर्ण बात जो आपको पता होनी चाहिए वह है की आप जिस मुद्रा में निवेश कर रहे हैं, वह कहीं पैसे की चोरी या हैकिंग में शामिल तो नहीं है।

तो वे कौन सी क्रिप्टोकरेंसी है जिसको सबसे सुरक्षित कहा जा सके?

लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी में Bitcoin, Ethereum और Litecoin का नाम सबसे ऊपर आता है। क्रिप्टो मार्केट में ये सभी बहुत बड़े नाम हैं। ये सभी बहुत प्रसिद्ध हैं और बहुत से लोग इनको अच्छी तरह से जानते हैं। इस लेख में मैं इन तीन मुद्राओं पर ध्यान केंद्रित करूंगा क्योंकि ये सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो कर्रेंसियां हैं।

Bitcoin सबसे सुरक्षित क्रिप्टोकरेंसी क्यों है?

मार्केट में अधिकांश क्रिप्टो currencies Blockchain तकनीक का उपयोग करती हैं, और Bitcoin इन मुद्राओं में सबसे लोकप्रिय है। ये वर्तमान में निवेश करने के लिए सबसे सुरक्षित क्रिप्टोकरेंसी है क्योंकि यह बहुत लंबे समय से मौजूद है।

क्योंकि Bitcoin इतना लोकप्रिय है, इस में निवेश करना बहुत जोखिम भरा हो सकता है, लेकिन अगर आप जोखिमों के बावजूद बिटकॉइन में निवेश करने को तैयार हैं तो यह आपके लिए एक शानदार अवसर है।

पिछले कुछ वर्षों में Bitcoin में कई बदलाव हुए हैं, लेकिन इस में जब भी कुछ बदला है तो कभी भी कोई हैकिंग या पैसे की चोरी देखने में नहीं आई।

Ethereum सबसे सुरक्षित क्रिप्टोकरेंसी क्यों है?

Ethereum 2015 से बाजार में है, और तब से इसने बहुत सारे बदलाव किए हैं। Ethereum और Bitcoin बहुत समान हैं और ये दोनों क्रिप्टोकरेंसी ब्लॉकचेन तकनीक का उपयोग करती हैं।

Ethereum में निवेश करते समय आप यह सुनिश्चित करना चाहेंगे कि कहीं यह आप के पास से हैक या चोरी ना हो। अपने पहले वर्ष में Ethereum के प्लेटफार्म पर सुरक्षा की कई समस्याएं थीं। क्योंकि वे उन मुद्दों को ठीक करने में सफल रहे हैं, अब उनके पास एक बहुत ही सुरक्षित मंच है जिस पर करेंसी की हैकिंग या चोरी नहीं की जा सकती।

Litecoin सबसे सुरक्षित क्रिप्टोकरेंसी क्यों है?

Litecoin एक बहुत लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी है, और यह भी काफी अरसे से मार्केट में मौजूद है। Litecoin भी Bitcoin की तरह blockchain तकनीक का उपयोग करता है, इसलिए दोनों मुद्राओं में कई समानताएं हैं।

चूंकि Litecoin 2011 से ही मार्किट में मौजूद है, इसलिए इस करेंसी की सुरक्षा में आने वाले मुद्दों को ठीक करने का पूरा अवसर मिलता रहा है। Litecoin के मंच को एक सुरक्षित संस्कृति मिलने की वजह भी यही है की वे कई सालों से क्रिप्टो की दुनिया में पाया जाता है।

निष्कर्ष

इन तीन क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करना बहुत जोखिम भरा हो सकता है, क्योंकि ये बहुत प्रसिद्ध और लोकप्रिय हैं। लेकिन, अगर आप जोखिम लेने को तैयार हैं तो इनमें आपके लिए बेहतरीन अवसर हैं।

यदि आप Bitcoin या किसी भी क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करने के बारे में सोच रहे हैं तो मैं पहले इस पर कुछ शोध करने की सलाह दूंगा। इन सभी क्रिप्टो currencies पर शोध करने के बाद आप को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप एक सुरक्षित करेंसी में निवेश करने जा रहे हैं।

Author

रोहित कुमार onastore.in के लेखक और संस्थापक हैं। इन्हे इंटरनेट पर ऑनलाइन पैसे कमाने के तरीकों और क्रिप्टोकरेंसी से संबंधित जानकारियों के बारे में लिखना अच्छा लगता है। जब वह अपने कंप्यूटर पर नहीं होते हैं, तो वह बैंक में नौकरी कर रहे होते हैं। वैकल्पिक रूप से [email protected] पर उनके ईमेल पर संपर्क करने की कोशिश करें।

10 मुख्य क्रिप्‍टोकरेंसी, जिनके बारे में सभी को पता होना चाहिए, मिलेगा मोटा मुनाफा

दुनिया में प्रचलित दर्जनों क्रिप्‍टोकरेंसी के बीच 10 डिजिटल करेंसीस ने लोगों को खूब मुनाफा दिया है.

क्या आप कनफ़्यूज हैं कि कौन सी क्रिप्टोकरेंसी खरीदें? मार्केट वैल्यू के आधार पर 10 मुख्य क्रिप्टोकरेंसी में से सही करेंसी कैसे चुनें? इसके बारे में सब कुछ यहां जानें.

  • News18Hindi
  • Last Updated : September 27, 2021, 19:38 IST

इस समय पूरी दुनिया में हजारों क्रिप्टोकरेंसी चलन में हैं . इतनी बड़ी संख्या , पहली बार क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल करने वालों के लिए मुसीबत बन जाती है . वे समझ नहीं पाते कि वास्तव में किस क्रिप्टोकरेंसी पर भरोसा करें . इसके अलावा , कभी – कभी कुछ अज्ञात क्रिप्टोकरेंसी की वैल्यू अचानक 100% से ज़्यादा हो जाती है , जिससे उनके लापता होने का डर (FOMO) भी बढ़ जाता है .

अगर आप क्रिप्टोकरेंसी में ट्रेड करना चाहते हैं , तो क्रिप्टोकरेंसी के बारे में जानने से पहले , कुछ जांची व परखी गई क्रिप्टोकरेंसी को समझना ज़रूरी है . इसे ध्यान में रखते हुए , हमने अगस्त 2021 तक की मार्केट वैल्यू के आधार पर 10 मुख्य क्रिप्टोकरेंसी को चुना है , ताकि आप क्रिप्टो के बारे में बेहतर तरीके से जान सकें .

1 – Bitcoin
Bitcoin दुनिया की सबसे मशहूर क्रिप्टोकरेंसी है . इस ओरिजिनल क्रिप्टोकरेंसी को वर्ष 2009 में Satoshi Nakamoto के नाम से , किसी व्य ​ क्ति या ग्रुप द्वारा बनाया गया था . ज़्यादातर क्रिप्टोकरेंसी की तरह , Bitcoin भी एक ब्लॉकचेन पर चलता है , जो हजारों कंप्यूटर का एक नेटवर्क है और किसी ब्रोकर या एजेंट के बिना रीयल – टाइम में ट्रांज़ैक्शन को वेरिफाई करता है .

बेहतरीन सुरक्षा के अतिरिक्त कॉन्सेप्ट वाला Bitcoin किसी भी टाइप की हैकिंग से पूरी तरह सुरक्षित है . अगस्त महीने के अंत में इसका मार्केट कैप 856 बिलियन डॉलर से अधिक था . एक Bitcoin की कीमत पांच साल पहले के 500 डॉलर से बढ़कर , आज लगभग 45,000 डॉलर से अधिक हो गई है . इसका मतलब यह हुआ कि इस दौरान कुल 8900% का चौंका देने वाला रिटर्न मिला .

2 – Ethereum
Ethereum एक ब्लॉकचेन नेटवर्क है जिसका मूल टोकन Ether या ETH है और इसे आमतौर पर एक क्रिप्टोकरेंसी के रूप में भी जाना जाता है . अगर आपने एनएफटी (NFT) को डिजिटल तौर पर बेचे जाने के बारे में सुना है , तो आपको पता होना चाहिए कि उन्हें ज्यादातर Ethereum ब्लॉकचेन का इस्तेमाल करके प्रोसेस किया जाता है . यह एक बेहतरीन प्लेटफार्म है जो अपग्रेड होने और ट्रेंड में टॉप पर बने रहने की कोशिश लगातार करता रहता है . इसकी नई पहल का उद्देश्य , जीवाश्म ईंधन पर निर्भरता में भारी कमी लाना है .

क्रिप्टोकरेंसी के तौर पर , इसने चौंकाने वाले रिटर्न दिए हैं , जो पांच साल की अवधि में $11 से बढ़कर $3000 से भी अधिक हो गया है . 27,000% का यह रिटर्न दांतों तले उंगली दबाने जैसा है . फ़िलहाल , इसका एम – कैप $357 बिलियन से अधिक है , जो इसे दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी बनाता है .

अगर आप सोच रहे हैं कि इस तरह का रिटर्न कैसे पा सकते हैं , तो हमारे द्वारा सुझाए गए Zebpay के इस्तेमाल के बारे में ज़रूर सोचें दें . यह आपको सिर्फ़ ₹100 से शुरुआत करने और अपनी पसंद के क्रिप्टो में इन्वेस्ट करने की सुविधा देता है . अपनी पहली क्रिप्टोकरेंसी खरीदने के लिए , आपको बस अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना है और केवाईसी के आसान प्रोसेस के ज़रिए खुद को वेरिफाई करना है .

3 – Binance Coin
$70 बिलियन से अधिक के मार्केट कैप वाला Binance Coin मौजूदा दौर की तीसरी सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी है . इसका इस्तेमाल ट्रेडिंग , पेमेंट प्रोसेसिंग या ट्रैवल बुकिंग के लिए भी किया जा सकता है . साथ ही , क्रिप्टोकरेंसी के अन्य रूपों जैसे कि Ethereum या Bitcoin के लिए भी इसे ट्रेड या एक्सचेंज किया जा सकता है .

भारत में , क्रिप्टोकरेंसी प्लेटफॉर्म Zebpay अपने उपयोगकर्ताओं के लिए कुछ और भी बेहतर सुविधाएं प्रदान करता है . Zebpay Earn के साथ केवाईसी – रजिस्टर्ड उपयोगकर्ताओं को चुनिंदा क्रिप्टो होल्डिंग्स पर , दैनिक रिटर्न मिलता है . वास्तव में , आपको केवल कुछ क्रिप्टो की होल्डिंग के बदले क्रिप्टो में भुगतान मिलता है . इसमें रिटर्न की दर 1% से 7.5% तक होती है जो आपके पास मौजूद कॉइन और क्रिप्टोकरेंसी पर निर्भर करती है . Zebpay Earn, क्रिप्टोकरेंसी को स्टोर करने और अपनी क्रिप्टो होल्डिंग्स पर , रिटर्न जनरेट करने का एक शानदार तरीका है .

4 – Cardano
Cardano एक नई क्रिप्टोकरेंसी है , लेकिन इसने आते ही धूम मचा दी और इस समय सबसे ज्यादा चर्चित क्रिप्टोकरेंसी है . बड़ी क्रिप्टोकरेंसी की तुलना में कम लागत पर ट्रांज़ैक्शन को वैलिडेट करने के लिए , इसे नए व भरोसेमंद प्रूफ – ऑफ – स्टेक मेथड के लिए जाना जाता है . अगस्त , 2021 के अंत में इसका मार्केट कैप 69 बिलियन डॉलर था .

5 – Tether
$64 बिलियन के एम – कैप वाला Tether, एक अलग तरह की क्रिप्टोकरेंसी है . इसे स्टेबल कॉइन कहा जाता है . यह अमेरिकी डॉलर जैसी फिएट करेंसी द्वारा समर्थित है , जो इसे अन्य अस्थिर क्रिप्टोकरेंसी की तुलना में अधिक स्थिर और भरोसेमंद बनाती है .

6 – XRP
XRP को डिजिटल टेक्नोलॉजी कंपनी Ripple की टीम ने बनाया है . इसका इस्तेमाल नेटवर्क के तौर पर , अलग – अलग टाइप की करेंसी को एक्सचेंज करने के लिए किया जाता है , इसमें फिएट करेंसी के अलावा अन्य प्रमुख क्रिप्टोकरेंसी भी शामिल हैं . अगस्त , 2021 के अंत में XRP का मार्केट कैप $52 बिलियन था .

7 – Dogecoin
मीम के रूप में होने वाली शुरुआत , आज $40 बिलियन से अधिक वैल्यू वाली क्रिप्टोकरेंसी बन गई है . इसमें मज़ेदार बात यह है कि – 2017 में Dogecoin की वैल्यू $0.0002 थी और आज यह $0.31 है . इसका मतलब यह हुआ कि पांच वर्षों में इसमें 154900% की बढ़ोतरी हुई है !

8 – Polkadot
Polkadot को 2020 में लॉन्च किया गया था . मात्र एक साल में , इसकी वैल्यू $2.93 से बढ़कर $25.61 हो गई , यानी 774% की बढ़ोतरी हुई ! Polkadot की खासियत यह है कि यह एक क्रिप्टोकरेंसी नेटवर्क बनाने की कोशिश कर रहा है जो विभिन्न ब्लॉकचेन को जोड़ता है , ताकि उन्हें एक साथ मिलाकर काम किया जा सके . इसका एम – कैप वर्तमान में $25 बिलियन से अधिक है .

9 – USD Coin
USD Coin एक और स्टेबल कॉइन है . इसकी मार्केट वैल्यू $23 बिलियन है और लगातार बढ़ती जा रही है . यह Ethereum द्वारा संचालित है और इसका इस्तेमाल पूरी दुनिया में कहीं भी ट्रांज़ैक्शन करने के लिए किया जा सकता है .

10 – Solana
आखिर में बात करते हैं Solana की . यह , $20 बिलियन से अधिक के एम – कैप वाली क्रिप्टोकरेंसी है . यह हाल ही में अपने यूनीक हाइब्रिड प्रूफ – ऑफ – स्टेक और प्रूफ – ऑफ – हिस्ट्री मेकैनिज़्म के लिए सुर्खियों में बना रहा . गौरतलब है कि ये मेकैनिज़्म , ट्रांज़ैक्शन को जल्दी और सुरक्षित रूप से प्रोसेस करने में मदद करतें हैं . Solana को 2020 में लॉन्च किया गया था . उस समय इसकी कीमत $0.77 थी और आज यह 9405% बढ़कर $73.19 पर कारोबार कर रहा है .

इतने सारे विकल्प मौजूद होने पर , अब सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी कौन सी हैं आपको यह निर्णय लेने में आसानी होगी कि कौन सी क्रिप्टोकरेंसी आपके लिए सबसे ज्यादा सही होगी . सोच – समझकर निर्णय लेने के बाद , आप इनमें से किसी भी करेंसी में इन्वेस्टमेंट की शुरुआत कम पैसे सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी कौन सी हैं से कर सकते हैं . जैसा कि हमने पहले कहा है , आप इसके लिए एक Zebpay खाता खोल सकते हैं और केवाईसी से जुड़ी औपचारिकताएं पूरी करके , इन्वेस्ट करना शुरू कर सकते हैं . इतना ही नहीं , आप Zebpay Earn की मदद से अपनी पसंदीदा क्रिप्टोकरेंसी को होल्ड करके क्रिप्टो भी कमा सकते हैं . तो , देर किस बात की , आगे बढ़ें और आज से ही क्रिप्टोकरेंसी में इन्वेस्ट करना शुरू करें !

ब्रेकिंग न्यूज़ हिंदी में सबसे पहले पढ़ें News18 हिंदी| आज की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट, पढ़ें सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट News18 हिंदी|

भविष्य में ये क्रिप्टोकरेंसी हो सकती है नंबर-1, है बिटकॉइन को पछाड़ने का दम?

aajtak.in

बीते कुछ महीनों में क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में बहुत ज्यादा उथल-पुथल रही है. इस दौरान बिटकॉइन जैसी मजबूत क्रिप्टोकरेंसी की वैल्यू में 50% तक की गिरावट देखी गई है. इसके बाद से एक्सपर्ट्स को चिंता सताने लगी है कि क्या बिटकॉइन सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी कौन सी हैं क्रिप्टो मार्केट की सरताज बनी रहेगी. (All Photos : File/Getty/Reuters)

बिटकॉइन हुआ धराशायी

क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में हाल के उतार-चढ़ाव के दौरान बिटकॉइन की वैल्यू ने 65,000 डॉलर के ऑल-टाइम हाई लेवल को छुआ, लेकिन ये डिजिटल करेंसी इस लेवल पर ज्यादा देर टिक नहीं सकी. इसकी वैल्यू ने लगभग 50% का गोता लगाया और ये 30,000 डॉलर प्रति बिटकॉइन रह गई.

गिरा बिटकॉइन का मार्केट शेयर

कॉइनगेको का डेटा दिखाता है कि बिटकॉइन का मार्केट शेयर भी गिरा है. 2020 की शुरुआत से पहले क्रिप्टोमार्केट में बिटकॉइन 70% क्रिप्टो मार्केट पर राज करता था. अब ये घटकर 42% पर आ गया है. अगर डॉलर के टर्म में देखें तो पूरे क्रिप्टोमार्केट की वैल्यू में कुल बिटकॉइन की वैल्यू 1,600 अरब डॉलर की रह गई है.

चीन और टेस्ला ने पलटा पासा

बिटकॉइन की वैल्यू में गिरावट की दो बड़ी वजह है. इनमें से एक चीन का क्रिप्टोकरेंसी को लेकर नियम कड़े करना. दूसरी वजह हैं टेस्ला के प्रमुख एलन मस्क. बिटकॉइन को लेकर उनके बार-बार अपना रुख बदलने से इस डिजिटल करेंसी की वैल्यू को काफी चोट पहुंची है. लेकिन वो कौन सी करेंसी है जो बिटकॉइन को लगातार चुनौती दे रही है.

ये क्रिप्टोकरेंसी दे रही बिटकॉइन को चुनौती

बिटकॉइन के बाद बाजार में एथेरियम को दूसरे नंबर की क्रिप्टोकरेंसी माना जाता है. ये लगातार बिटकॉइन की नंबर एक की पदवी को चुनौती दे रही है. बीते एक साल में एथेरियम की वैल्यू में 900% की ग्रोथ हुई है जबकि बिटकॉइन मात्र 275% चढ़ा है.

एथेरियम का मार्केट शेयर भी बढ़ा

मार्केट शेयर के मामले में भी एथेरियम ने अपने आप का मजबूत किया है. इसने मई महीने में बिटकॉइन से 350 अरब डॉलर का अंतर कम किया है. इस तरह इसकी हिस्सेदारी तो बढ़ी है, हालांकि ये अभी भी बिटकॉइन से काफी पीछे है.

मई में मात्र 11% गिरी एथेरियम की वैल्यू

बिटकॉइन और एथेरियम की वैल्यू में गिरावट को अगर देखा जाए तो तो मई महीने में एथेरियम मात्र 11% गिरा है. जबकि बिटकॉइन की वैल्यू में 37% तक की गिरावट देखी गई है. एक्सपर्ट्स एथेरियम के मजबूत होने की क्या वजह मानते हैं.

एथेरियम के मजबूत होने की वजह

एथेरियम में निवेश करने वाले निवेशक और विशेषज्ञों का मानना है कि इस डिजिटल करेंसी के लगातार मजबूत होने की दो बड़ी वजह हैं. पहला ब्लॉकचेन बेस्ड फाइनेंशियल सर्विसेस की लोकप्रियता बढ़ना. दूसरा एथेरियम की टेक्नोलॉजी में होने जा रहा एक बड़ा अपग्रेड जो उसके काम करने के तरीके को बदल देगा.

 बनेगी एनवायरमेंट फ्रेंडली

डिजिटल करेंसी को माइन करने और मेंटेन करने में काफी ऊर्जा की खपत होती है. एथेरियम अपनी टेक्नोलॉजी में जो अपग्रेड करने जा रहा है उससे इसे चलाने में उपयोग होने वाली ऊर्जा में 99.5% तक की बचत होगी. जबकि बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी को क्लाइमेट चेंज जैसे मुद्दे का सामना करना पड़ सकता है. इससे भविष्य में संभावना है कि ज्यादा लोग एथेरियम में निवेश करें.

Cryptocurrency क्या है, Popular cryptocurrencies in Hindi

(Cryptocurrency in Hindi) is a digital currency, secured by cryptography and based on blockchain technology.

Cryptocurrency

क्रिप्टो करेंसी क्या है (Cryptocurrency in Hindi)

क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल, क्रिप्टोग्राफ़ी द्वारा सुरक्षित और ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी पर आधारित मुद्रा है।

Cryptocurrency is a digital, cryptographically secured and blockchain technology based currency.

क्रिप्टो करेंसी का मतलब | Cryptocurrency Meaning in Hindi

टेक्नोलॉजी बहुत तेजी से बदल रही है जिससे लोगों के काम करने, संवाद करने, खरीदने और भुगतान करने का तरीका भी बदल गया है। यह सब समय के साथ बढ़ती टेक्नोलॉजी के साथ साथ बदलता रहता है।

आज के समय में लोगों ने कैश रखना बहुत कम कर दिया है जो लेनदेन हो रहे है उसमें ज्यादातर डिजिटल होते है, और यह डिजिटल लेनदेन आम जनमानस का हिस्सा बन गए है। कॉर्पोरेट्स और कंस्यूमर धीरे धीरे कैश से लेनदेन कम करते जा रहे हैं और स्मार्टफोन ने इस डिजिटल लेनदेन की प्रक्रिया को आसान और तेज कर दिया है।

डिजिटल लेनदेन के साथ डिजिटल करेंसी भी पैर जमा रही है, यह डिजिटल करेंसी क्रिप्टोकरेंसी है।

क्रिप्टोकरेंसी शब्द की उत्पत्ति | Origin of Cryptocurrency word in Hindi

क्रिप्टोकरेंसी शब्द कह सकते हैं नया शब्द है, जो 21 वीं सदी की शुरुआत से ही आया है। यह दो शब्दों – ग्रीक शब्द ‘kryptos’ जिससे ‘क्रिप्टो’ लिया गया है जिसका अर्थ है ‘छिपा हुआ या गुप्त’ और लैटिन शब्द ‘currere’ जिससे ‘करेंसी’ लिया गया है जिसका अर्थ है ‘चलाना’ से मिलकर बना है।

क्रिप्टोकरेंसी कैसे काम करती है? | How Does Cryptocurrency Work in Hindi?

क्रिप्टो करेंसी डिजिटल मनी है जिसे आप छू नहीं सकते, जेब में नहीं रख सकते यानी यह करेंसी का डिजिटल रूप है और यह पूरी तरह से ऑनलाइन है। इसे क्रिप्टोग्राफी द्वारा सुरक्षित किया जाता है। कई क्रिप्टोकरेंसी ब्लॉकचैन टेक्नोलॉजी पर आधारित हैं और इनकी कोई भी सेंट्रल अथॉरिटी नहीं है।

क्रिप्टोक्यूरेंसी एक नयी डिजिटल भुगतान प्रणाली है जिसका लेनदेन का सत्यापन बैंकों पर निर्भर नहीं होता है और क्रिप्टोक्यूरेंसी का इस्तेमाल वस्तुओं और सेवाओं के भुगतान के लिए ऑनलाइन आदान-प्रदान किया जा सकता है।

पहली क्रिप्टोक्यूरेंसी 2009 में आयी और एक दशक से भी कम समय में दुनिया भर में अरबों डॉलर की क्रिप्टोकरेंसी लेनदेन में है। शायद आपने बिटकॉइन के बारे में सुना हो यह पहली क्रिप्टोकरेन्सी थी और उसे लोगों ने स्वीकार किया और उसके बाद अन्य क्रिप्टोकरेंसी आयी जो धीरे धीरे पॉपुलर हो रही हैं। आज के समय में लोग क्रिप्टोकरेंसी को ज्यादातर ऑनलाइन ट्रेड में लाभ के लिए इस्तेमाल करते हैं।

करेंसी किसे कहते हैं | What is Currency in Hindi

हर देश की अपनी मुद्रा (Currency) होती है जैसे कि अमेरिका की डॉलर, यूरोपियन यूनियन की यूरो, भारत की रुपया, पाकिस्तान की पाकिस्तानी रुपया, चीन की युआन है यानी एक ऐसी भुगतान प्रणाली जो किसी देश द्वारा मान्य/अधिकृत हो और वहां के लोग इसके इस्तेमाल से चीजें खरीद सकते हों, जिसकी कोई वैल्यू हो, करेंसी (Currency) कहलाती है।

क्रिप्टोकरेंसी कितनी सुरक्षित है? | How secure is Cryptocurrency in Hindi?

ज्यादातर क्रिप्टोकरेंसी ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का उपयोग करके बनाई जाती है। ब्लॉकचेन डिजिटल कोड में लेनदेन को रिकॉर्ड करता है। यह एक काफी जटिल, तकनीकी प्रक्रिया है जिससे हैकर्स के लिए छेड़छाड़ करना मुश्किल है।

इसके अलावा, क्रिप्टोकरेंसी में लेनदेन के लिए two-factor authentication की प्रक्रिया भी होती है। जैसे, लेनदेन शुरू करने के लिए आपको Username और Password दर्ज करने के लिए कहा जा सकता है। या फिर, आपको एक authentication code दर्ज करना पड़ सकता है जो आपके व्यक्तिगत मोबाइल फ़ोन पर टेक्स्ट के माध्यम से आता है।

डिजिटल मुद्रा कहाँ स्टोर कर सकते हैं? | Where can you store Digital Currency in Hindi?

यदि आप क्रिप्टोकरेंसी खरीदते हैं, तो आप इसे क्रिप्टो एक्सचेंज पर या क्रिप्टो डिजिटल वॉलेट में स्टोर कर सकते हैं। कई अलग-अलग प्रकार के वॉलेट हैं, प्रत्येक के अपने फायदे और सुरक्षा हैं।

सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी कौन सी हैं? | What are the most popular Crypto Currencies?

इसमें कोई शक नहीं कि सबसे पॉपुलर क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन है। बिटकॉइन (Bitcoin) अब तक की सबसे लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी है, इसके बाद एथेरियम(Ethereum), लाइटकॉइन (Litecoin) और टीथर (Tether) जैसी अन्य क्रिप्टोकरेंसी हैं।

bitcoin

bitcoin

क्रिप्टो करेंसी के नाम | Cryptocurrency Names in Hindi

Bitcoinबिटकॉइन
Ethereumएथेरियम
Litecoinलाइटकॉइन
Binance Coinबिनेंस कॉइन
Cardanoकार्डानो
Dogecoinडॉगकॉइन
Polka Dotपोल्का डॉट
Uniswapयूनिस्वैप
Rippleरिपल
Dashडैश
Tetherटीथर
Crypto Currency Names in Hindi

Popular Crypto Currency

Popular Crypto Currency

भारत में क्रिप्टोक्यूरेंसी कानूनी है? | Cryptocurrency legal in India in Hindi?

अभी भारत में बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टोकरेंसी गैर कानूनी नहीं हैं, लेकिन रेगुलेटेड भी नहीं हैं इसका मतलब अगर क्रिप्टोकरेंसी लेनदेन में कुछ भी गलत होता हैं तो आप किसी अथॉरिटी, बैंक और सरकार के पास नहीं जा सकते।

भारत में निजी क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंजों की संख्या बढ़ रही है, लेकिन सरकार के पास कोई आधिकारिक डेटा नहीं है। और सरकार के पास इन एक्सचेंजों से जुड़े निवेशकों की संख्या के बारे में भी कोई जानकारी नहीं है।

Question for you?

टेक्नोलॉजी सबसे लोकप्रिय क्रिप्टो करेंसी कौन सी हैं हमेशा ही जन मानस की उत्सुकता को बढ़ाती रही है आप क्या कहते है की क्रिप्टोकरेंसी के साथ कैसे आगे बढ़ना चाहिए। कमेंट करिये-

भविष्य में ये क्रिप्टोकरेंसी हो सकती है नंबर-1, है बिटकॉइन को पछाड़ने का दम?

aajtak.in

बीते कुछ महीनों में क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में बहुत ज्यादा उथल-पुथल रही है. इस दौरान बिटकॉइन जैसी मजबूत क्रिप्टोकरेंसी की वैल्यू में 50% तक की गिरावट देखी गई है. इसके बाद से एक्सपर्ट्स को चिंता सताने लगी है कि क्या बिटकॉइन क्रिप्टो मार्केट की सरताज बनी रहेगी. (All Photos : File/Getty/Reuters)

बिटकॉइन हुआ धराशायी

क्रिप्टोकरेंसी मार्केट में हाल के उतार-चढ़ाव के दौरान बिटकॉइन की वैल्यू ने 65,000 डॉलर के ऑल-टाइम हाई लेवल को छुआ, लेकिन ये डिजिटल करेंसी इस लेवल पर ज्यादा देर टिक नहीं सकी. इसकी वैल्यू ने लगभग 50% का गोता लगाया और ये 30,000 डॉलर प्रति बिटकॉइन रह गई.

गिरा बिटकॉइन का मार्केट शेयर

कॉइनगेको का डेटा दिखाता है कि बिटकॉइन का मार्केट शेयर भी गिरा है. 2020 की शुरुआत से पहले क्रिप्टोमार्केट में बिटकॉइन 70% क्रिप्टो मार्केट पर राज करता था. अब ये घटकर 42% पर आ गया है. अगर डॉलर के टर्म में देखें तो पूरे क्रिप्टोमार्केट की वैल्यू में कुल बिटकॉइन की वैल्यू 1,600 अरब डॉलर की रह गई है.

चीन और टेस्ला ने पलटा पासा

बिटकॉइन की वैल्यू में गिरावट की दो बड़ी वजह है. इनमें से एक चीन का क्रिप्टोकरेंसी को लेकर नियम कड़े करना. दूसरी वजह हैं टेस्ला के प्रमुख एलन मस्क. बिटकॉइन को लेकर उनके बार-बार अपना रुख बदलने से इस डिजिटल करेंसी की वैल्यू को काफी चोट पहुंची है. लेकिन वो कौन सी करेंसी है जो बिटकॉइन को लगातार चुनौती दे रही है.

ये क्रिप्टोकरेंसी दे रही बिटकॉइन को चुनौती

बिटकॉइन के बाद बाजार में एथेरियम को दूसरे नंबर की क्रिप्टोकरेंसी माना जाता है. ये लगातार बिटकॉइन की नंबर एक की पदवी को चुनौती दे रही है. बीते एक साल में एथेरियम की वैल्यू में 900% की ग्रोथ हुई है जबकि बिटकॉइन मात्र 275% चढ़ा है.

एथेरियम का मार्केट शेयर भी बढ़ा

मार्केट शेयर के मामले में भी एथेरियम ने अपने आप का मजबूत किया है. इसने मई महीने में बिटकॉइन से 350 अरब डॉलर का अंतर कम किया है. इस तरह इसकी हिस्सेदारी तो बढ़ी है, हालांकि ये अभी भी बिटकॉइन से काफी पीछे है.

मई में मात्र 11% गिरी एथेरियम की वैल्यू

बिटकॉइन और एथेरियम की वैल्यू में गिरावट को अगर देखा जाए तो तो मई महीने में एथेरियम मात्र 11% गिरा है. जबकि बिटकॉइन की वैल्यू में 37% तक की गिरावट देखी गई है. एक्सपर्ट्स एथेरियम के मजबूत होने की क्या वजह मानते हैं.

एथेरियम के मजबूत होने की वजह

एथेरियम में निवेश करने वाले निवेशक और विशेषज्ञों का मानना है कि इस डिजिटल करेंसी के लगातार मजबूत होने की दो बड़ी वजह हैं. पहला ब्लॉकचेन बेस्ड फाइनेंशियल सर्विसेस की लोकप्रियता बढ़ना. दूसरा एथेरियम की टेक्नोलॉजी में होने जा रहा एक बड़ा अपग्रेड जो उसके काम करने के तरीके को बदल देगा.

 बनेगी एनवायरमेंट फ्रेंडली

डिजिटल करेंसी को माइन करने और मेंटेन करने में काफी ऊर्जा की खपत होती है. एथेरियम अपनी टेक्नोलॉजी में जो अपग्रेड करने जा रहा है उससे इसे चलाने में उपयोग होने वाली ऊर्जा में 99.5% तक की बचत होगी. जबकि बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी को क्लाइमेट चेंज जैसे मुद्दे का सामना करना पड़ सकता है. इससे भविष्य में संभावना है कि ज्यादा लोग एथेरियम में निवेश करें.

रेटिंग: 4.93
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 271
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *